HomeHealthहाई प्रोटीन के लिए ये वेजिटेरियन परिवारों को आजमाएं, अंडे और चिकन...

हाई प्रोटीन के लिए ये वेजिटेरियन परिवारों को आजमाएं, अंडे और चिकन को दे रहे हैं टिक्कर


आपने अचरार सुना होगा कि हाई प्रोटीन (प्रोटीन) तो मीट, मछली, अंडे खाना शुरू कर दो। लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि वेजिटेरियन फूड (शाकाहारी भोजन) में प्रोटीन के ऐसे कई स्रोत मौजूद हैं जो अंडे और चिकेन से भी जियालदा हाई प्रोटीन कैरी करते हैं। ऐसे में बर्ड फ्लू से बचने के लिए अगर आप नॉनवेज खाना बंद कर रहे हैं तो आपको अपनी सेहत के लिए चिंता करने की जरूरत नहीं है। दरअसल प्रोटीन ऑक्सीजन, हाइड्रोजन और नाइट्रोजन से बनने वाला तत्व है जो बॉडी को अंदर और बाहर दोनों से मजबूत बनाता है। प्रोटीन हमारे शरीर के मसलों को कोट्रौंग करने के साथ हड्डियों को भी मजबूत करता है। इसके अलावा यह बल्ड फंक्शन को सही रखता है और बालों और स्किन को भी खूबसूरत बनाता है। तो यहां हम आपको कुछ ऐसे वेजिटेरियन हाई प्रोटीन (हाई प्रोटीन) तेलों के बारे में बताते हैं जिनमें अंडे और मीट से जियालदा प्रोटीन होता है।

पनीर व कॉटेज चीज

वेजिटेरियन फूड में सबसे जियादा पसंद किया जाने वाला यह फूड प्रोटीन का बहुत ही बढ़िया स्रोत है। बता दें कि अंडे और पनीर दोनों में लगभग एक ही तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं। प्रोटीन के अलावा दोनों ही में विटामिन बी -12, आयरन, कैल्शियम और कई विटामिन भी होते हैं।

ड्राइवफ्रुट और सीड्स बादाम, वाल, मूंगफली और यहाँ तक कि चिया सीड्स में भरपूर मात्रा में प्रोटीन मिलता है। आपको अपने ब्रेकफास्ट में रोज़ाना शामिल करना चाहिए। खासतौर पर बादाम प्रोटीन का सबसे बड़ा स्रोत है। इन प्रोटीन के अलावा विटामिन, मिनरल और फाइबर भी बहुत होता है। इसे रेुलर खाने से आपको बहुत सारे हेलनाथ बेनीफिट्स मिलते हैं।

ओट्स

एक कप सूखे ओट्स में लगभग 13 ग्राम प्रोटीन और 8 ग्राम फाइबर होता है। इसके अलावा इसमें मैग्नीशियम, जिंक, फॉस्फोरस और फॉलेट की मात्रा भी बहुत होती है। ओट्स प्रोटीन का अच्छा स्रोत हो सकता है। इसे आप ब्रेकफास्ट में ले सकते हैं।

पीनट बटर

पीनट बटर में प्रोटीन बहुत अधिक मात्रा में होता है। यह हेल्‍दी होने के साथ ही टेस्‍ट भी होता है। पीनट बटर में विटामिन बी 6, प्लाटेशियम, फाइबर, मैग्नेशियम आदि भी बहुत मात्रा में मौजूद होता है। अगर आप इसका सेवन रेलर करते हैं तो आपके शरीर में प्रोटीन के साथ-साथ अन्य पोषक तत्वों की भी कमी नहीं होगी।

हरि मटर

हरि मटर के एक कप में 8 ग्राम प्रोटीन होता है। इसके अलावा हरि मटर में फाइबर, पोटेशियम, विटामिन, तांबा जैसे कई तत्व पाए जाते हैं। इसे कच्छचा और पकाकर दोनों तरह से आप खा सकते हैं। दोनों ही रूप में यह फुल ऑफ प्रोटीन है।

सोयाबीन

यह प्रोटीन की दैनिक आवश्यकता का 72% तक पूरा कर सकता है। 100 ग्राम कच्चे सोयाबीन में 36 ग्राम तक प्रोटीन मौजूद होता है। सोयाबीन का उपयोग कई तरीकों से किया जा सकता है। सोया चाप, न्‍यूटूट श्रीनगेट के रूप में भी यह हेल्‍दी अपचन है।

ब्रोकोली और फूलगोभी

ब्रोकोली और फूलगोभी भी प्रोटीन का सबसे अच्छा स्रोत है। एक कप कोल्ही ब्रोकोली में लगभग 2.6 ग्राम प्रोटीन होता है जबकि एक कप कटी हुई फूलगोभी में 2 ग्राम प्रोटीन होता है। ये दोनों सबाजियों को प्रोटीन का पावरहाउस भी कहते हैं। (अस्वीकरण: इस लेख में दी गई जानकारी और सूचना सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं। हिंदी समाचार 18 इनकी पुष्टि नहीं करता है। ये पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें।)



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read