HomeHealthलैपटॉप पर काम करने से होता है हाथों और पैरों में दर्द...

लैपटॉप पर काम करने से होता है हाथों और पैरों में दर्द होता है, तो इन तरीकों से आराम मिलेगा


लैपटॉप और कंप्यूटर को उस स्थान पर रखें, जहाँ से वह आपकी आँखों के बराबर हो।

बहुत अधिक समय तक कीबोर्ड (कीबोर्ड) और माउस (माउस) का उपयोग करने से हाथ और फंक्स (फिंगर्स) अंदर से कमजोर हो सकते हैं। उंगली के पोर पर हल्के सा दबाव भी दर्द का एहसास करा सकता है।

  • News18Hindi
  • आखरी अपडेट:11 जनवरी, 2021, 11:09 AM IST

कोरोना (कोरोना) काल में ज्यादातर लोग वर्क फ्रॉम होम (वर्क फ्रॉम होम) कर रहे हैं। इसकी वजह से लोग अधिक से अधिक समय कंप्यूटर (कंप्यूटर) और लैपटॉप (लैपटॉप) के सामने बिता रहे हैं। कंप्यूटर पर बहुत अधिक समय रुकने की वजह से लोगों में कई तरह की शारीरिक समस्याएं नज़र आने लगी हैं। इनमें से एक हैग और हाथों में दर्द (फिंगर एंड हैंड पेन) होना। वास्तव में कंप्यूटर या लैपटॉप पर काम करते हैं अक्सर कमर दर्द या फिर गर्दन में दर्द की समस्या एक आम बात है लेकिन कई ऐसे लोग हैं, जिनके हाथों और पैरों में भी समस्याएं शुरू हो गई हैं। उन्हें हाथ और पैर में दर्द का सामना करना पड़ रहा है। धीरे-धीरे यह दर्द और हाथों के जोड़ों में पहुंच जाता है। बहुत अधिक समय तक कीबोर्ड और माउस का उपयोग करने से हाथ और फंसी अंदर से कमजोर हो सकते हैं। उंगली के पोर पर हल्के सा दबाव भी दर्द का एहसास करा सकता है। ऐसे में इससे राहत पाने के लिए आप कुछ तरीके अपना सकते हैं।

कंप्यूटर की हाइट और हाथों की स्थिति
आप जहां काम करते हैं वहां पहले कंप्यूटर की हाइट को चेक करें। कोशिश करें कि आप लैपटॉप और कंप्यूटर को उस स्थान पर रखें, जहाँ से वह आपकी आँखों के बराबर हो। इसके अलावा बांह की कलाई को सीधा कीबोर्ड पर हॉरिज फ़ॉन्टल के रूप में रखा जाना चाहिए। साथ ही, कीबोर्ड तक पहुंचने के लिए अपने पाठक को बहुत दूर न पियानो या फिर कलाई को नीचे की ओर न झुकाएं।

यह भी पढ़ें: कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने के लिए जरूर खाएं ये 4 सुपरफूड्स, तुरंत असरकलाकार andeg पर गति न डालें

काम करते वक्त पाठक को टेबल पर रखकर कीबोर्ड परगे का इस्तोमाल करने से दर्द हो सकता है। इस तरह आप केवल कीबोर्ड का इस्तेमाल करते हैं। मुट्ठी को हवा में थोड़ा ऊपर रहने दें। इस तरह आपकी कलाई डेस्क से नहीं टकराएगी और इससे आपको दर्द से भी राहत पा सकते हैं।

ब्रेक में हाथों को स्ट्रेच करें
काम के दौरान बीच-बीच में ब्रेक लेना बहुत जरूरी है लेकिन कई लोग काम की वजह से ब्रेक लेना भूल जाते हैं। समय-समय पर ब्रेक लेने से आप न सिर्फ हाथों और पैरों के दर्द से राहत पा सकते हैं बल्कि अन्य शारीरिक परेशानियों को भी दूर कर सकते हैं। अपनी सेहत के लिए एक या दो मिनट का समय निकाल और हाथों और पैरों को आराम दें या फिर स्ट्रेच करें। ब्रेक लेते समय अपनी बाहों को फैलाएं, साथ ही उसे अच्छी तरह से स्ट्रेच करें।

कलाइयों के लिए करें एक्सरसाइज
अपनी ठोकर्ठी को बाएं से दाएं और दाएं-बाएं से लगभग 10 बार दबाने के बाद धीरे से पाठक को घूमाएं। यह कम से कम दो घंटे में एक बार दोहराता है। साथ ही आप एक और एक्सरसाइज कर सकते हैं। अपने दाएं और बाएं हाथ की उंगलियों को संभोग करें और अपनी बाहों को धीरे से ऊपर की ओर पियानो पर। पैरों को दर्द से राहत देने के लिए आप कुछ समय के लिए अपनी मुट्ठी भी खोल सकते हैं और बंद कर सकते हैं। इस तरह आप अपने हाथों को दर्द से छुटकारा दिला सकते हैं।

यह भी पढ़ें: खांसी से परेशान हैं, तो जरूर अपनाएं ये घरेलू उपाय

मसाज करें
अगर आप रोजाना 10 घंटे की शिफ्ट करते हैं तो एक दिन अपनी बाहों और अंग को आराम दें। इसके लिए अगर आप चाहे तो बाहों और अंग की एवेन्यू ऑयल से मसाज कर सकते हैं। अगर आपके पास एवेन्यू ऑयल नहीं है तो तिल या फिर सरसों के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे आपको काफी राहत मिलेगी।(अस्वीकरण: इस लेख में दी गई जानकारी और सूचना सामान्य जानकारी पर आधारित हैं। हिंदी समाचार 18 इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें।)





LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read