HomeHealthभारत में कोरोना से मौतें 1,50,000 पार, सबसे ज्यादा नुकसान 10 देशों...

भारत में कोरोना से मौतें 1,50,000 पार, सबसे ज्यादा नुकसान 10 देशों का हाल क्या है?


केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (स्वास्थ्य मंत्रालय) के जारी आंकड़ों ने बताया कि बुधवार को देश में को विभाजित -19 की चपेट में आकर मरने वालों की संख्या डेढ़ लाख के पार हो गई। 150,114 मौतों के साथ ही भारत में कोरोना संक्रमण (कोरोना वायरस संक्रमण) के कुल मामलों की संख्या 1 करोड़ 3 लाख 75 हज़ार के लगभग है। संक्रमणों के लिहाज़ से भारत दुनिया में कोरोना से सबसे ज़्यादा ग्रस्त देशों की लिस्ट (देशों की सूची सबसे खराब तरीके से कोविद -19) में दूसरे नंबर पर बना हुआ है जबकि मौतों के मामले में तीसरे देश है, जहां डेढ़ लाख का आंकड़ा पार हो गया है। ।

दूसरी ओर, यूरोप में संक्रमण के ताज़ा दौर से हालात बिगड़ रहे हैं। कुछ देशों में वैक्सीन कार्यक्रम शुरू हो गया है, लेकिन संक्रमण पर वर्तमान में अधिक पाए जाने जैसी स्थिति नहीं है। संक्रमणों के लिहाज़ से दुनिया में जो तीन देश सबसे ज़्यादा चपेट में हैं, उनके केसों को मिलाकर देखें तो दुनिया के तक़रीबन आधे केस दिखते हैं। जानिए कोरोना के कहर से त्रस्त देशों के क्या हाल हैं।

ये भी पढ़ें: – वैक्सीन अप्रूवल पर विवाद, विशेषज्ञों के सवालों के बाद टीके कितने भरोसेमंद हैं?

अमेरिका: टीकाकरण अभियान शुरू तो हुआ लेकिन ठीक ढंग से न चलने की खबरें बनी रहीं। अमेरिका में बुधवार तक के आंकड़ों के मुताबिक पिछले एक दिन में करीब 3900 मौतें होने की खबर पर जॉन होकिन्स यूनिवर्सिटी ने इसे 24 घंटे का नया रिकॉर्ड बताया है। सम्मिलित स्रोतों की मानें तो अमेरिका में वर्तमान में कोरोना मामलों की संख्या 2,11,03,926 और मौतों की संख्या 3,57,394% है।

को विभाजित से सबसे ज्यादा मौतों के मामले में भारत तीसरे नंबर पर है।

ब्राज़ील: दक्षिण अमेरिका के इस देश में वैक्सीन को अप्रूवल अब तक नहीं मिल गया है जबकि यहां केसों की संख्या लगातार बढ़ती दिखी है। ब्राज़ील में कुल संक्रमणों का आंकड़ा 78,10,400 है, जो भारत से कम है, लेकिन मृत्यु दर अत्यधिक होने के कारण यहां भारत के मुकाबले 1,97,732 मौतें हो चुकी हैं। यानी भारत ने डेढ़ लाख मौतों का आंकड़ा पार किया है और ब्राजीलिल 2 लाख के आंकड़े के करीब है।

चित्र प्रदर्शनी : दुनिया की टॉप 10 ‘वैक्सीन-वीमन’, जो जीटी कोरोना के खिलाफ है

मेक्सिको: ताज्जुब की बात यह है कि इस देश का शुमार केसों के हिसाब से सबसे ज्यादा प्रभावित 10 देशों में नहीं है, लेकिन मौतों के आंकड़े के मामले में यह चौथा सबसे ज्यादा ग्रस्त देश है। 128,822 मौतों के साथ यहां डेथ रेट बहुत ज्यादा है क्योंकि कुल मामला 15 लाख भी नहीं हैं। इमरजेंसी यूज़ के लिए यहां एस्ट्राज़ेनेका की वैक्सीन को मंज़ूरी मिल चुके है।

ये भी पढ़ें: – ठंड में कितने कठिन जीवन जीते हैं देश के इस कोने में लोग?

रमन: क्षेत्र के लिहाज़ से दुनिया का सबसे बड़ा यह देश को विभाजित के केसों की संख्या के हिसाब से चौथे नंबर पर है। 32,50,713 कुल केसों वाले रूस में स्वदेशी वैक्सीन स्पूतनिक का जन टीकाकरण कार्यक्रम शुरू हो चुका है। यहां डेथ रेट यूरोपीय देशों के मुकाबले कम होने के कारण अब तक 58,706 मौतों का आंकड़ा है।

अमेरिकी गुरुत्वाकर्षण: कोरोना के नए स्ट्रेन के मिलने की खबरों के बीच यहां संक्रमण का नया दौर जिस तरह जारी है, नए सिरे से लॉकडाउन की नौबत आई। वैक्सीन कार्यक्रम शुरू होने के बावजूद यहां संक्रमण रुकने का नाम नहीं ले रहा। 2,782,709 कुल केसों के साथ ही कोविड से मौतों का आंकड़ा 76,428 तक पहुंच गया है।

वैक्सीन समाचार, वैक्सीन अनुमोदन, कोरोना प्रभावित देश, कोविद प्रभावित देश, वैक्सीन समाचार, वैक्सीन अप्रूवल, 10 कोरोना इन्फिनिटी देश, 10 को विभाजित -19 बुनियादी देश

भारत में हाल में, दो वैक्सीनों कोल्डजी का अप्रूवल मिला।

इटली: कोविड से मौतें यूके के मुकाबले इटली में कम हैं, लेकिन फ्रांस की तरह यहां भी केसोड खतरनाक बना हुआ है। 21,81,619 कुल केसों में से 76,329 मामलों में मौत होने से इटली सबसे ज्यादा पीड़ित देशों की लिस्ट में शुमार है। यूरोपीय संघ के वैक्सीनइट प्रोग्राम के तहत जनवरी के आखिरी दो हफ्तों में इटली को फाइजर की वैक्सीन के करीब 34 लाख डोज मिलेंगे।

ये भी पढ़ें: – सऊदी जेल में बंद इस महिला एक्टिविस्ट के लिए पूरी दुनिया में उठ रही है आवाज

फ्रांस: यूके के मुकाबले यहां को विभाजित से मृत्यु दर कम बताई गई लेकिन इसके बावजूद दुनिया के सबसे ज्यादा कोरोना ग्रस्त देशों में फ्रांस शुमार है। 66,417 मौतें यहां तब हुईं जब केसों की कुल संख्या 27,37,884 रही। यहां वैक्सीन कार्यक्रम को लेकर बेहद धीमी गति आलोचना का विषय बना हुआ है और इस तरह की नीति को फ्रांस के लिए नुकसानदायक बताया जा रहा है।

स्पेन: यूरोप का यह देश कोरोना के सबसे ज्यादा मामलों और ज्यादा डेथ रेट के लिए चर्चा में बना रहा है। कुल केसों का ताज़ा आंकड़ा 19,82,544 है तो मौतें 51,430 हो चुकी हैं। पिछले कुछ हफ्तों में यहां 1,40,255 नए मामले सामने आए हैं। फ्रांस की तरह यहां भी टीकाकरण कार्यक्रम कछुआ चाल का शिकार हो गया है और कई तरह की गड़बड़ियों के आरोप लग रहे हैं।

वैक्सीन समाचार, वैक्सीन अनुमोदन, कोरोना प्रभावित देश, कोविद प्रभावित देश, वैक्सीन समाचार, वैक्सीन अप्रूवल, 10 कोरोना इन्फिनिटी देश, 10 को विभाजित -19 बुनियादी देश

यूरोपीय देशों में वैक्सीन कार्यक्रम बंद पड़ने की खबरें हैं।

अन्य देश: सबसे ज्यादा मौतों के मामले में देखा जाए तो कोलंबिया में 44,428 और अर्जेंटीना में 43,785 मौतों का आंकड़ा है, जो स्पेन के बाद लिस्ट में है। वहीं केसोड के मामले में शीर्ष लिस्ट में जर्मनी और तुर्की शुमार हैं। जर्मनी में 18,14,565 मामले हैं, लेकिन कुल मौत 36,757 हैं। वहीं, तुर्की में 22,70,101 केसों में, 21,879 मामलों में मरीज़ों की मौत हुई।

कुल मिलाकर स्थिति यह है कि कई देशों में वैक्सीन कार्यक्रम शुरू हो जाने के बाद भी महामारी की रोकथाम वर्तमान में दिखाई नहीं दे रही है। दुनिया भर में अब भी पचास लाख से अधिक नए मामले और 15 हज़ार से ज़्यादा मौतें हर रोज़ हो रही हैं। विशेषज्ञ बार-बार कह रहे हैं कि तमाम बार बरतना ही अभी तक उपाय है।



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read