HomeHealthपीगन डाइट से भगाएं जिद्दी मोटापा, खाट ये खास बातें- News18 हिंदी

पीगन डाइट से भगाएं जिद्दी मोटापा, खाट ये खास बातें- News18 हिंदी


मोटापे को कम करने और भगाने को लेकर बहुत कुछ कर चुके हैं, लेकिन ये जाने का नाम नहीं लेता है तो अब पीगन डाइट प्लान (पेगन डाइट प्लान) ट्राई करें। यह डाइट प्लान आजकल ट्रेंड में है। यह आपका वजन ही कम नहीं करता है बल्कि मोटापे से जुड़ी बीमारियों को दूर रखने में भी मदद करता है। लेकिन यह स्पष्ट करने से पहले इसके फायदे-नुकसान के बारे में भी जान लें। यहाँ हम इस योजना से जुड़ी हुई बातें जो आपको बताने जा रहे हैं।

क्या है पीगन डाइट प्लान

पीगन डाइट प्लान वीगन (शाकाहारी) और पैलिओ (पालेओ) डाइट के बेहतरीन के मेल से बना है। पैलियो डाइट में जहां मांस और मछली शामिल है। वहीं वीगन में चिंताओंएं और दर्द का प्रोटीन.प्लेट्स बेस्ड इस डाइट में एनीमल फैट वाले फूड पर कंट्रोल होता है या फिर उसे डाइट में शामिल ही नहीं किया जाता है।इसे क्लीवलैंड क्लिनिक सेंटर फॉर फंक्शनल मेडिसिन के डॉयरेक्टर डॉ। मार्क हाइमन ने ईजाद किया है। डॉ। हाइमन के मुताबिक, गैर-स्टार्च वाली सब्जियां, फल और पौधों का प्रोटीन नाक वाली पीगन डाइट से पूरी सेहत में सुधार होता है।

यह भी पढ़ें: करता है इंटरमिटेंट फास्टिंग, जानें इस उपवास में क्या खाएं और क्या नहीं

क्या खा रहे हैं और क्या हैं

डॉ। हाइमन की के इस डाइट प्लान में आपके प्लेट में 75 प्रति फल और सब्जियां और बाकी 25 प्रति में बेहद कम मात्रा में एनिमेशनल फैट होना चाहिए। मतलब 25 फीसद हिस्से में केवल आपकी हथेली में समा सकने लायक प्रोटीन रिच फूड यानी हेल्दी फैट जैसे मछली, सी, फूडस, नट्स। इसमें सबसे अधिक फोकस पौधों वाले खाद्य पर होता है तो ग्लूटन (ग्लूटेन) मुक्त अनाज, दालें, सब्जियां, फल एवोकाडो और ऑलिव ऑयल जैसी चीजें आपके खाने में होनी चाहिए। इसमें डेढ़ पेटेट्क्स से परहेज रहता है जैसे गाय का दूध, पनीर। इस डाइट प्लान में प्रोसेड फूड खाने की भी मनाही है। शुगर और उसे सभी उपाएक्टस, रिफाइंड ऑयल भी इस डाइट प्लान का हिस्सा नहीं हैं।

पैगन डाइट के फायदे:

इससे सेहतमंद रहने और लगातार वजन घटाने में मदद मिलती है।इससे शरीर के वजन, सूजन कम होती है तो इंसुलिन (इंसुलिन) भी संतुलित रहता है। डायबिटीज से दूध है, ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रक में रखता है। हृदय रोगों से भी बचाने में भी मदद करता है।

यह भी पढ़ें: सर्दियों में जरूर खाएं ड्रैगन फ्रूट, इम्यूनिटी होती है

पैगन डाइट के नुकसान

इस डाइट प्लान को सेहतमंद रहने के लिए आप लंबे समय तक या ताउम्र फॉलो कर सकते हैं, लेकिन इसके नुकसान भी हैं मसलन इसमें बहुत के मामले में आपको बहुत परहेज से रहना होता है। इसके अलावा खाने में अलग-अलग खाद्य पदार्थों के चुनने और व्यायाम करने में काफी समय लगता है और एक्सपायर भी गिर जाता है। विशिष्ट खाद्य समूहों पर प्रतिबंध लगाने से पोषक तत्वों की कमी का सामना भी करना पड़ सकता है।(अस्वीकरण: इस लेख में दी गई जानकारी और सूचना सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं। हिंदी समाचार 18 इनकी पुष्टि नहीं करता है। ये पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें।)



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read