HomeHealthठंड के मौसम में जरूर खाएं गाजर का हलवा, स्वास्थ्य को होते...

ठंड के मौसम में जरूर खाएं गाजर का हलवा, स्वास्थ्य को होते हैं ये खास फायदे- News18 हिंदी


सर्दियों के मौसम (सर्दियों के मौसम) में हरी सब्जियों के साथ-साथ गाजर (गाजर) को भी बहुत पसंद किया जाता है। गाजर का पाउडर पुलाव, सब्ज़ी, फ्रिज और सूप बनाने के साथ-साथ हलवे के रूप में भी किया जाता है। ठंड के मौसम में गाजर का हलवा (Gajar Ka Halwa) सबसे जियादा पसंद की जाने वाली मिठाइयों में से एक है। यह एक ऐसी शवीत डिश है जिसके अलग-अलग तरीकों से बनाया जा सकता है। घी (घी) और ड्राई फ्रूटस (ड्राई फ्रूट्स) से गाजर का हलवा मुंह में पिघल जाता है और इसका स्वाद इतना लाजवाब होता है कि डिनर के बाद इसे बड़े ही नहीं नहशे में भी बहुत चाव से खाते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि खाने में स्वादिष्ठगरर का हलवा आपकी हेल्थ के लिए भी बहुत स्वादिष्ट होता है। दरअसल गाजर का हलवा बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला मूल तत्व गाजर है। गाजर विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन के और फाइबर से भरपूर होता है।

गाजर में विटामिन ए की आंखों की रोशनी में सुधार करने में मदद करता है। हलवे में दूध डालकर इसे कैल्शियम और प्रोटीन से युक्त किया जाता है। काजू और किशमिश हलवे में प्रोटीन और एंटीऑक्सीडेंट को जोड़ते हैं। हलवे में शुद्ध घी शरीर को सर्दियों में होने वाले दर्द को कम करने के लिए जरूरी है कि मोटे फैट देता है। इसके अलावा गाजर खाने से लंग इंफेक्शन से बचने में भी मदद मिलती है। हममें से बहुत से लोग ऐसे हैं जो गाजर खाना पसंद नहीं करते हैं। ऐसे लोगों को यह स्वादिष्ट लगता है, मीठे हलवे के रूप में जरूर खाना चाहिए। इसे खाने से कोई नुकसान नहीं होता है। गाजर उन हेल्दी सब्जियों में से एक है जिसका हम आसानी से सेवन कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें: छोटी सी दिखने वाली पुलचीनी सेहत पर ऐसा जादू है, इसमें ये 4 बड़े फायदे हैं

गाजर खाने के फायदे

-यह Fi से खूब होता है जो वजन घटाने में मदद करता है।
-यह वनस्पति कोलेस्ट्रॉल से लड़ती है और हार्ट हेलनाथ को बढ़ाती है।
-गाजर में विटामिन ए होता है जो आंखों के स्वास्थ्य को बढ़ाता है।
-गाजर डाइजेशन में मदद करता है और कब्ज से छुटकारा मिलता है।
-विटामिन, मिनरल, एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर गाजर इमोयूनिटी को बढ़ाने में मदद करता है।

विटामिंस और मिनरलास से बहुत
प्रसाद फ्रूट्स के बिना गाजर के हलवे की रेसिपी अधूरी मानी जाती है। ड्राई फ्रूट्स फाइबर, एंटीऑक्सीडेंट, विटामिंस और मिनरालस से भरपूर होते हैं, जो शरीर के लिए जरूरी होते हैं, खासकर सर्दियों के मौसम में। यदि आपको फ्रूट्स पसंद नहीं हैं, तो उन्हें अपने गाजरे के हलवे में शामिल करना उनके सेवन का एक अच्छा तरीका हो सकता है। यह अत्यधिक पौष्टिक होते हैं और स्वास्थ्य में सुधार करते हैं।

घी सर्दियों में रखता है हेलदी
गाजर का हलवा बनाने में घी का पानी किया जाता है जो सर्दियों के मौसम में स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा होता है। घी में चाहे फैट होता है जो इस मौसम में दर्द को कम करने में मदद करता है। गाजर में मौजूद विटामिन ए लंग इंफेक्शन और अन्य मौसमी संक्रमणों से बचाने में मदद करता है। गाजर का हलवे का सेवन इम्यूनिटी बढ़ाने में भी मदद करता है।

यह भी पढ़ें: कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने के लिए जरूर खाएं ये 4 सुपरफूड्स, तुरंत असर

त्वचा को नुकसान से नुकसान है
गाजर का हलवा त्वचा को सूरज की हानिकारक यूवी किरणों से बचाने के लिए जरूरी है जो सर्दी के मौसम में सक्रिय होता है। गाजर में मौजूद बीटा कैरोटीन त्वचा की सुरक्षा करता है।

कैल्शियम से भरपूर होता है
दूध का उपयोग करके गाजरे के हलवे की रेसिपी तैयार की जाती है। दूध इस मिठाई को पूरी तरह से हेल्दी बनाता है। दूध शरीर के लिए आवश्यक कैल्शियम की मात्रा को बढ़ाता है।(अस्वीकरण: इस लेख में दी गई जानकारी और सूचना सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। हिंदी समाचार 18 इनकी पुष्टि नहीं करता है। ये पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें।)



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read