HomeHealthकठिन समय में खुद को कैसे रखें स्ट्रांग, जानें प्रैक्टिकल उपाय- News18...

कठिन समय में खुद को कैसे रखें स्ट्रांग, जानें प्रैक्टिकल उपाय- News18 हिंदी


हर किसी की उम्र में अच्छेे के साथ बुरा व हानिकारक जरूर आता है। हम ना चाहते हुए भी उन मुश्किल परिस्थितियों में फंस जाते हैं जिनसे हमेशा से हम भागते आए हैं। चाहे वह हेल्थ प्रॉब्लम (स्वास्थ्य समस्या) हो, फाइनेंशियल प्रॉब्लम (फाइनेंशियल प्रॉब्लम) या पर्सनल प्रॉब्लम (पर्सनल प्रॉब्लम)। इन स्थितियों के सामने कई बार ऐसा लगता है कि हम कमजोर पड़ रहे हैं। मुश्किल के इस दौर में आसपास कोई साथ नहीं दिखता है। ऐसे में खुद को स्ट्रांग बनाए रखना आसान नहीं होता है। लेकिन कुछ ऐसे उपाय हैं जिन्दें हम अपनाकर इन बुरे व लाभदायक में भी खुद को मजबूत बनाए रख सकते हैं। आइए जानते हैं कि वह कौन सी सी प्रैक्टिल बातें हैं जिन्दें हम अपनाकर इनसे उबर सकते हैं।

पॉजिटिव रहो

जहां तक ​​संभव हो पॉजिटिव (सकारात्मक) रहें। यह हमेशा याद रखें कि अगर आप पॉजिटिव रहेंगे तो आपका दिमाग सही निर्णय ले पाएगा। कई बार हम बुरे व पाद में निगेटिव बातों पर जियालदा धचन देने देते हैं और यहीं से सारा प्रॉब्लेम शुरू हो जाता है। दूसरे करता है कहेगा या कहीं कुछ बुरा तो नहीं होगा, ऐसे विचारों से खुद को दूर रखें।

सच्छाई को पढ़वीकारें

सचितचाई को पूरी तरह पढ़वीकारें केवल आप परिस्थिति को सही अर्थों में समझेंगे। अगर आप सस्चाई को पढ़वीकार करेंगे तो नहीं उबरेंगे कैसे। खुद को बाउंस बैक (बाउंस बैक) करने के लिए ख़ुद को मोटिवेट करें। यह याद रखें कि उस बुरे व प्रभावशाली में आपका साथ आप खुद ही दे सकते हैं, नहीं और इसलिए इसलिए सस्चाई का डट कर सामना करें।

धैर्य बनाए रखें

बुरे व पवित्र में धैर्य बनाए रखना जरूरी है। यह विचार गांठ बांध कर रखता है कि हर व प्रभावशाली गुजर जाता है। आपका बुरा वख्त भी गुजर जाएगा और कुछ होगा। अगर आप धैर्य खो देंगे तो आप गलत निर्णय भी ले सकते हैं इसलिए शांत रहें और धैर्य बनाए रखें।

खुद पर करें

यह याद रखें कि आप एक अच्छे इंसान हैं। अपनी अच्छाइयों को याद रखें। अपने सैनिकों को जानें। खुद पर काबू करें। अगर आप खुद पर गर्व करेंगे तो आप खुद को समन करेंगे। ऐसे में आपका खुद पर भरोसा भी बढ़ जाता है।

माइंड करें डायवर्ट

कुछ अच्छी व्यावसायिक पुस्तक या सिनेमा दृश्य। इससे बुरी बुरी चेतन का सामना करने की प्रेरणा मिलेगी। यही नहीं आपका माइंड डायवर्ट भी होगा। मुश्किल समय से बाहर निकालने में किताबें या अच्छी फ़िल्में आपकी सबसे जियादा मदद कर सकती हैं। (अस्वीकरण: इस लेख में दी गई जानकारी और सूचना सामान्य जानकारियों के आधार पर हैं। हिंदी समाचार 18 इनकी पुष्टि नहीं करता है। ये पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें।)



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read