HomeHealthइस मौसम में स्वास्तथक को लेकर रहें सचेत, वरना हो सकते हैं...

इस मौसम में स्वास्तथक को लेकर रहें सचेत, वरना हो सकते हैं ये बड़ी हेलनाथ प्रॉब्लमबल्लमस – न्यूज़ हिंदी


नई दिलवाली: मौसम विभाग (IMD) ने भी चेतावनी से भरी एक एडवाइजरी भी जारी की है, जिसमें उसने साफ किया है कि अगले 3 दिनों तक देश के कई राज्यों में शीत लहर (शीत लहर) और घने कोहरे (घने कोहरे) का प्रकोप रहेगा। इसलिए यही सलाह है कि लोग घर से बाहर न निकलें और अगर जरूरी हो तो केवल अपनी यात्रा प्लान करें। मौसम की कड़ी मार के कारण लोगों को अपने स्वयं के पाठ का भी ख्‍याल रखने की बेहद जरूरत है।

खांसी और सांस लेने की समस्या भी हो सकती है
दरअसल, घने कोहरे में पार्टिकुलेट मैटर और प्रदूषण की मात्रा ज्यादा बढ़ जाती है, जिसकी वजह से फेफड़े आदि को नुकसान ज्यादा पहुंचता है। खांसी और सांस लेने आदि की समस्या भी पैदा हो जाती है। अस्थमा आदि की प्रॉब्लम भी लोगों को होती है। आँखों में जलन, सूजन और लालपन जैसी समस्या भी उत्पन्न होती है।

इस मौसम में स्वास्थ्य के बारे में स्वास्थ्य पर जोर रहेगा
इन सभी को लेकर मौसम विभाग ने कुछ स्वास्थ्य को लेकर सचेत रहने की सलाह भी दी है। मौसम विभाग का मानना ​​है कि इस तरह के मौसम में फ्लू, नाक का बहना या रुक जाना, नकसरी जैसी विभिन्न तरह की बीमारियां भी बढ़ जाती हैं। ठंड की वजह से लोगों को इस तरह की बीमारियों से बचने का प्रयास करना चाहिए। के शीत लहर से बचने के लिए कोशिश करें कि घर के भीतर ही रहे। शरीर के सभी अंगों को ढक कर रखने या उन्हें कवर करके रखें। यह सलाह भी दी है कि ठंड की वजह से अगर कपकपी जैसी स्थिति बनती है तो तुरंत मेडिकल ट्रीटमेंट लेना चाहिए।

निकास एक्टिविटी से बाहर, सी रिच फ्रूट्स एसए खाक्स

लोगों को बाहर निकलने से बचना चाहिए या फिर सीमित करना चाहिए। विटामिन सी रिच फ्रूट्स और वेजिटेबल के अलावा पर्याप्त मात्रा में गर्मी देने वाले तरल पदार्थों का बहुत अधिक से अधिक सेवन करने की जरूरत की सलाह दी गई है ताकि उनकी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ सके। एक लेयर का भारी गर्म कपड़जगह हल्के कई लेयर के कपड़े ठंड़ से बचने के लिए पहनने की सलाह दी है।

फसल, बिजली, पानी पर भी बुरा असर पड़ा है
साथ ही घने कोहरे और शीत लहर आदि का असर कृषि, फसल, पशुओं, पानी की आपूर्ति, ट्रांसपोर्ट और पावर सेक्टर आदि पर बहुत अधिक देखने को मिल सकता है। मौसम विभाग ने लोगों को इस स्थिति से बचने के लिए कुछ सुझाव भी दिए हैं। साथ ही यह भी सलाह दी है कि ऐसे मौसम में असंवेदनशील लोगों से कुछ दूरी भी बनाकर रखें। वहीं, पशुओं को सर्द मौसम से बचाने कर रखने की जरूरत है।



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read