Home Health इम्यूनिटी बूस्टर: इर्माय्यूनिटी बढ़ाने के लिए ये घरेलू नुस्खे हैं, सर्दी खांसी...

इम्यूनिटी बूस्टर: इर्माय्यूनिटी बढ़ाने के लिए ये घरेलू नुस्खे हैं, सर्दी खांसी नहीं होगी


पढ़ाई में इन दिनों इमोयूनिटी बढ़ाने वाली दवाओं का प्रचलन तेजी से बढ़ा है। लोग इमरयूनिटी बढ़ाने के लिए तरह तरह की दवाओं, विटामिन सप्लीमेंट और आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों का धड़वले से प्रयोग कर रहे हैं। सर्दी के मौसम के कारण अन्य संक्रामक बीमारियों का खतरा बहुत बढ़ जाता है। लोग मोड़ मौसम में सर्दी-जुकाम, फ्लू के शिकार हो रहे हैं लेकिन अगर हम दादी नानी के घरेलू नस्लों को ही अपने जीवन में उतारने में शामिल कर लें तो हम बिना खर्च और बिना किसी साइड इफेक्तट्स के ही अपनी इस्माइयत को बूस्ट कर सकते हैं। आइए जानते हैं कि इम्युनिटी बढ़ाने के विशेष उपाय।

हल्दी दूध

हर रात यदि हम गर्म दूध में एक चर्ममच हल्दी और शहद मिलाकर पियाँ तो यह हमारी सेहत को दुरुस्त रखता है। भारतीय आयुर्वेद विज्ञान में हल्दी का बहुत ही स्वास्थ्य लाभ है। इर्मयून सिस्टम को मजबूत करने में इसका प्रयोग किया जाता है।

आंवले की चटनीआंवला में विटामिन सी की मात्रा भरपूर होती है। सुबह से आँवला नींबू की चटनी खाकर। यह आपके परिवार की इर्मयूनिटी को बूस्ट करेगा। आंवला ऐसे भी उत्सर्जित हो सकता है। कई लोग इसे शहद के साथ भी खाते हैं। आंवला स्पोर्ट्स भी बैंकिंस के लिए एक अच्छी इमीयूनिटी बूस्टर का काम करता है।

तुलसी अदरक पुलचीनी का काढ़ा

तुलसी घर घर में पाया जाता है। आप इसका काढ़ा सुबह चाय की तरह पीकर दिन की शुरूआत करें। यह मौसमी बीमारियों से आपको बचाता है। आप इसे नमक और काली मिर्च के साथ भी पी सकते हैं और शहद काली मिर्च के साथ भी।

बादाम छुहारा मिलक शेक

छुहारा कई औषधीय गुण से भरपूर ड्राईफ्रूट है। इसे दूध में रात भर भिगोकर रख दें। खाली पेट इसे खा जाता है। यह आपकी इर्मयूनिटी के लिए बहुत ही फायदेमंद है। इसके अलावा रात भर भीगे बादाम और छुहारा को एक साथ दूध में डालकर मिक्‍सी में फेंट लें। यह आपके साथ न्यूज़डन को भी बहुत पसंद आएगा।

मुनक्का

मुनक्का में एंटी-ऑक्सीडेंट्स के साथ पोटैशियम, बीटा कैरोटीन, कैल्शियम, मैग्नीशियम, आयरन और बी कॉम्लेक्स विटामिन पाया जाता है। यह आपकी इर्मयूनिटी को बूस्ट करने के साथ हड्डियों को भी मजबूत रखता है।

शहद

चीनी की जगह शहद का प्रयोग करें। शहद में भरपूर मात्रा में पोषक तत्व, प्रोटीन, मैग्नीशियम, कैल्शियम, फॉस्फोरस, विटामिन ए, बी, सी, लोहा, पोटेशियम, सोडियम के साथ एंटी-ऑक्सीडेंट और एंटी-माइक्रोबायल के गुण पाए जाते हैं। यह इम्यून सिस्टम को मजबूत रखने के साथ-साथ कई संक्रामक बीमारियों से भी आपको प्रभावित करता है। इसका सेवन आप चाय में भी कर सकते हैं। (अस्वीकरण: इस लेख में दी गई जानकारी और सूचना सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं। हिंदी समाचार 18 इनकी पुष्टि नहीं करता है। ये पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें।)



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read