Home Religious आर्थिक समस्या अगर आप धन की समस्या से परेशान हैं तो इन...

आर्थिक समस्या अगर आप धन की समस्या से परेशान हैं तो इन ग्रहों को जनम कुंडली में मजबूत करें


धन समस्या समाधान ज्योतिष: लक्ष्मी जी को धन की देवी माना गया है।मान्यता है कि जिस व्यक्ति पर लक्ष्मी जी की कृपा रहती है वह उसके जीवन में धन की कमी नहीं रहती है। ऐसे व्यक्तियों के जीवन में सुख और समृद्धि बनी रहती है। इसीलिए हर व्यक्ति धन की प्राप्ति के लिए कठोर परिश्रम करता है। यहां तक ​​की दूर के देशों की यात्राएं भी करती हैं।

भौतिक युग में धन जीवन को जीने का प्रमुख साधन है। चाणक्य की चाणक्य नीति भी कहती है कि जो व्यक्ति धन के महत्व को नहीं जानता है वह बुरे वक्त में पीड़ित भोग्या है। लेकिन कई बार ऐसा होता है कि मेहनत करने के बाद भी जीवन में धन की कमी बनी रहती है। इस तरह की योजनाओं की चाल के कारण भी होती है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार जब जन्मकुंडली में बैठे ग्रह अशुभ फल देने लगते हैं तो कई बार जीवन में धन का संकट खड़ा हो जाता है। व्यक्ति की जमा पूंजी नष्ट हो जाती है। व्यवसाय में हानि आरंभ हो जाती है।

योजना की अशुभता को दूर करें
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार जन्मकुंडली में विराजमान कुछ योजनाओं को अगर मजबूत कर लिया जाए तो धन के मामले में आने वाली दिक्कतों को काफी हद तक दूर किया जा सकता है। बुध, शुक्र और गुरू ग्रह व्यक्ति को धन के मामले में दृढ़ता प्रदान करते हैं। यदि इन योजनाओं की अशुभता को दूर कर लिया जाए तो धन से जुड़ी परेशानियों को दूर किया जा सकता है। ये ग्रह शुभ होने पर व्यक्ति को करोड़पति भी बना सकते हैं।

कमजोर ग्रह आर्थिक परेशानी बढ़ाते हैं
कुंडली में बैठे अशुभ ग्रह धन संबंधी समस्याएं भी खड़ी करते हैं। इन योजनाओं पर यदि पाप योजनाओं की दृष्टि पड़ रही है तो स्थिति और भी अधिक बिगड़ जाती है। जिस कारण व्यक्ति को कार्यों में सफलता नहीं मिलती है। जॉब, करियर, बिजनेस में बाधा आने लगती है।

ऐसे बनाएँ शुभ

बुध: बुध ग्रह बुद्धि का कारक ग्रह है। बुध का संबंध व्यापार और तकनीक से भी है। इस ग्रह की अशुभता को दूर करने के लिए भगवान गणेश जी की पूजा करना चाहिए। बुधवार के दिन गणेश जी को दूर्वा घास अर्पित करने से शुभ फलों की प्राप्ति होती है। इसके साथ ही मां सरस्वती और माता लक्ष्मी की भी पूजा करने से धन संबंधी परेशानियां दूर होती हैं। बुधवार के दिन काले रंग की गाय को मिष्ठान खिलाते हैं।

शुक्र: शुक्र ग्रह का संबंध सुख सुविधाओं से है। शुक्र जब अच्छी स्थिति में होता है तो व्यक्ति को जीवन में सभी प्रकार की सुविधाएं प्राप्त होती हैं। शुक्र ग्रह की अशुभता को दूर करने के लिए लक्ष्मी जी की पूजा करनी चाहिए। सफेद कपड़े का दान देना चाहिए। कलाकारों का सम्मान करने और उन्हें उपहार देने से भी शुक्र देव प्रसन्न होते हैं। वहीं महिलाओं का सम्मान करने से भी शुक्र शुभ फल देते हैं।

बृहस्पति: बृहस्पति ग्रह को भगवान का गुरू भी कहा जाता है। इसे गुरू भी कहते हैं। यह ज्ञान और विभिन्न श्रोतों से धन प्राप्ति का कारक ग्रह है। इस ग्रह को मजबूत बनाने के लिए बड्स का सम्मान करें। गुरूजनों का आर्शीवाद प्राप्त करें, उन्हें खुश रखें। सागर किसी से वादा किया गया है तो उसे पूरा जरूर करें। कडियन्स को डान लेट। भगवान विष्णु की पूजा करने से भी गुरू प्रसन्न होते हैं।

रशीफ़ल: शनिदेव किस नक्षत्र में कर रहे हैं? इन 5 राशियों पर रहेगी शनि की विशेष दृष्टि, जानें उपाय

चाणक्य नीति: चाणक्य के अनुसार इस एक चीज को कभी नष्ट न होने दें, आत्मविश्वास और सम्मान बना रहेगा, जानें चाणक्य नीति

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read