Home Health अधिक खा लेने से किशमिश भी बन जाती है सेहत की दुश्मन-...

अधिक खा लेने से किशमिश भी बन जाती है सेहत की दुश्मन- News18 हिंदी


रायमिश एनर्जी (ऊर्जा) का भंडार है। इसलिए ये खिलाड़ियों की पसंदीदा है। इसकी 100 ग्राम की मात्रा में ही 249 कैलोरीज होती हैं। अब तक आपने विटामिन बी, आयरन, पोटेशियम और कार्बोहाइड्रेट से भरपूर किशमिश के फायदों के बारें में ही सुना होगा जैसे, बॉडी का ब्लड प्रेशर और कोलेस्टरोल ठीक रखें, कब्ज़, पेट का दर्द, गैस, एसिडिटी और एनीमिया में राहत देते हैं। लेकिन इसे खाने के नुकसान भी हैं। हम यहां इसके फेमन्स के बारे में नहीं, बल्कि नुकसान के बारे में बात करेंगे।

किशमिश के नुकसान:

किशमिश खाने से कुछ लोगों को एलर्जी की परेशानी हो जाती है। यदि पहली बार किशमिश खाने से शरीर में किसी भी तरह की स्किन रैशेज, त्वचा में खुजली हो तो यह दोबारा ना खाएं।

-किशमिश अधिक खाने से सांस लेने में परेशानी का सामना भी करना पड़ सकता है।

-कई लोगों में किशमिश अधिक खाने से डायरिया, उल्टी, बुखार भी देखा जाता है।

-जड़ मात्रा में किशमिश का सेवन पेट में गैस की समस्या पैदा कर सकता है।

यह भी पढ़ें: सर्दियों में जरूर खाएं चौलाई का साग, इम्यूनिटी को स्ट्रॉन्ग कर बीमारियों को दूर करता है

-किशमिश में फ्रुक्टोज और ग्लूकोज की मात्रा अधिक होती है, ऐसे में जिनका वजन अधिक है और वजन घटाने की कोशिश कर रहें हैं तो उन्हें किशमिश नहीं खानी चाहिए। इसे खाने से वजन बढ़ सकता है।

-किशमिश में ट्राइग्लिसराइड्स अधिक होता है, जो हार्ट डिजीज, फैटी लिवर, लिवर कैंसर होने के रोगों को काफी हद तक बढ़ा देता है।

-अगर आप पूरी तरह सेहमतंद हैं और किसी तरह की बीमारी आपको नहीं है तो आप रोजाना 50 से 100 ग्राम तक किशमिश खा सकते हैं। लेकिन अगर आपको किसी तरह की बीमारी है, तो किशमिश की मात्रा के बारे में डॉ की सलाह लेना बेहद जरूरी है।

-किशम की मिठास कई बार आपको टाइप -2 डायबिटीज का शिकार भी बना सकती है। रायमिश अन्य प्रसाद फ्रूट्स के मुकाबले बेहद मीठा होता है। जिसकी वजह से डायबिटीज की परेशानी हो सकती है। लेकिन ऐसा तभी होगा जब आप किशमिश की जरूरत से ज्यादा खाएंगे। वैसे भी किसी भी चीज की अत्यधिक नुकसानदेह होती है फिर भी वही सेहत को फायदा पहुंचाने वाली किशमिश ही क्यों न हो। (अस्वीकरण: इस लेख में दी गई जानकारी और सूचना सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं। हिंदी समाचार 18 इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें।)



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read